Você está na página 1de 1

वलासगढ़

ाथना म
Íवलास ³Íपणे तु ¹यं नम: कृ *णाय ते नम:
सखी वग सुखाBाय H|ड़ा Íवमल दिश ने

सखी वग को आनÍ=दत करने के िलए Íवमल H|ड़ा करने वाले H|ड़ा Íवलास Fपी
÷ी कृ *ण को नम1कार है | यहाँ ÷ी राधा रानी का सÍखय| के साथ झू ला खे लने का
1थान है | Íवलास गढ़ - Íवलास गढ़ म झूलन लीला होती है |


Íवलास नाम से ह| पता चलता है Íक यहाँ पे Íवलास लीला ह

ई है | ये जो सामने दो
ख¹भे ह इनम झूला डाला जाता है और झूलन लीला होती है |